#29 Shayari

नफरत नहीं,बस मोहब्बत उससे ज्यादा है, इसलिए आज भी पूछ लिया, वो खैरियत से तो हैं ना वहां.

Advertisements