ये कैसी मोहब्बत…

सब कुछ भूल भी जाऊं तो वो रात याद आती है, मेरे कानों में गूंजती तेरी हर बात याद आती है, ये नज़रें भी जा टकराई तो किससे, होश गवां बैठा वो शरमाई कुछ ऐसे... मेरे दिल की ना जाने किस गहराई में तू बसती है, जब तक थी तू... अब जिंदगी खाली सी लगती [...]

बस यूं ही…

उससे ही दिल को मिलना था, करीब आकर फिर बिछड़ना था, ये गम नहीं खुशी का मौका था, दीदार से उनके ये दिल कुछ पलों के लिए धड़का था. जो उसके लिए मैं कर सका, वो कभी किसी और के लिए ना हुआ मुझसे, ना समझा वो तब था, ना समझा अब तक मेरा ये [...]

वो हो तुम…

वो जिसे मेरी आवाज़ मुझ तक खीच लायी, जिसे दूर से मेरी हंसी की महक आई, वो जिसे मेरी याद की तड़प रास आई, वो हो तुम. मेरे कमरे के बाहर से झांक रही तेरी नज़रें, मेरी नज़रों के मिलने से पहले ही कहीं छिप जाती हैं. वो जिसे मेरे हर पल की आहट करीब [...]

तेरे बिना…

तुमसे जुड़ी हर याद मेरे लिए बहुत ख़ास है, साथ बीता हर लम्हा एक खुशनुमा एहसास है, तुमसे ये दूरी एक अनजाना सा ख्वाब है. जो इस डोर को संभाले हुए है, वो हमारा प्यार है. मेरे ख्यालों में रोज़ तुम्हारा आना-जाना है, यूं लगा ही नहीं की कुछ वक़्त तुम्हारे बिना भी कभी गुज़ारा [...]

तुझसे दूर होंगे सोचा न था…

ना गम, ना खुशी, ना कोई रिश्ता बचा, हर चीज़, हर बात का अंत हुआ, किसी रोज़ इसका भी अंत लिखा था, एक दिन हम भी दूर होंगे, सोचा न था. कोई कहता है जितनी बातें हो, उतना अच्छा एक दूसरे को समझोगे, रिश्ता मजबूत होगा, कोई कहता है बातों में भी दायरा रखो, कल [...]

अपना सा, अजनबी…

ये कैसी उलझन में हूं मैं आज, किस भंवर में डूबती जा रही हूं, कौन थे तुम न सोचा कभी, क्यों आज हर पल तुम्हारी याद में हूं. नहीं सोचना मुझे इस एहसास के बारे में, नहीं जानना मुझे उस खूबसूरत ख्वाब के बारे में, बस दूर जाना है कहीं तुमसे, पर वो जगह मैं, [...]

याद रहेगा ये प्यार…

कुछ बिखरती सी नज़र आती है ज़िन्दगी, उसकी यादों की छांव में बीतती नज़र आती है ज़िन्दगी, हर ढलती शाम से यादों का सैलाब है लाती ज़िन्दगी, कैसे जियूंगी मैं, जब हर पल मुझे मार रही ये ज़िन्दगी. आगे बड़ने का नाम है ज़िन्दगी, बीते जो पल उसके साथ, वो प्यार है ज़िन्दगी, उसका मुझसे [...]